सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

शुक्रवार, 10 जुलाई 2009

अलविदा ! जैक्सन - एक श्रद्धांजलि ||



शिकागो के एक उपनगरीय औद्योगिक इलाके ग्रे में रहने वाले केथरीन और जोसेफ के घर 29 अगस्त 1958 को उनके सातवें बच्चे ने जब जन्म लिया तब किसी ने सोचा भी नहीं था कि एक दिन यह बच्चा सबका चहेता बनेगा और संगीत की दुनिया का बादशाह कहलाएगा।

संगीत जेक्सन परिवार की रगों में दौड़ता था, माइकल के पिता जोसेफ पेशे से एक क्रेन ऑपरेटर थे मगर एक स्थानीय बैंड 'फॉल्कन' में गिटार बजाते थे। माइकल की माँ केथरीन को कंट्री म्यूजिक बहुत पंसद था और उन्होनें अपने बच्चों को गाना गाना सिखाया।पाँच साल का होते-होते माइकल ने स्टेज पर अपनी गायकी की प्रतिभा दिखाना शुरू कर दिया। पिता के निर्देशन में अपने चार बड़े भाइयों के साथ उन्होंने एक से एक नंबर प्रस्तुत कर संगीत की दुनिया में पदार्पण कर लिया था।

मोटॉउन रिकार्ड ने माइकल को महज पाँच साल की उम्र में ही साइन कर लिया था, जिस वजह से जैक्सन परिवार ने केलिफोर्निया के लॉस एंजिल्स शहर में अपना नया आशियाना बनाया। अपने शानदार डांस, गायकी की बदौलत और अलग ही अंदाज ने माइकल को तुरंत ही सफलता दिला दी। उनका पहला सिंगल 'आई वॉंट यू बैक' नवम्बर 1969 में रिलीज हुआ और जबरदस्त सफलता हासिल की। इसके बार माइकल ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और 1970 में एबीसी, 'द लव यू सेव' व 'इट विल बी देयर' नंबरों ने सफलता के नए आयाम रचे। सिर्फ 11 वर्षीय माइकल प्रमुख गायक बन चुका था और भविष्य के सुपरस्टार की झलक उसमें मिलने लगी थी। 1975 में जैक्सन मोटॉउन छोड़कर एपिक रिकार्ड से जुड़ गए और अपने ग्रुप का नाम बदलकर जैक्सन्स कर दिया। एंजॉय युअरसेल्व और शेक युअर बॉडी जैसे पॉप नंबरों ने रिकार्ड तोड़ सफलता हासिल की। 1979 में माइकल ने एपिक रिकार्ड के साथ अपना पहला सोलो एलबम 'ऑफ द वॉल' निकाला, इसका निर्माण क्वींसी जोंस ने किया था। 'डोंट स्टॉप', 'टिल यू गेट इनफ', 'रॉक विथ यू' जैसे नंबरों से सजे इस एलबम की 7 मिलियन कॉपी बिकी थीं।1982 में माइकल ने अपना दूसरा सोलो एलबम 'थ्रिलर' पेश किया जिसके गानों ने माइकल को अविदित सुपरस्टार का दर्जा दे दिया।

बिली जीन और बीट इट जैसे सुपरहिट नंबरों ने टॉप चार्ट पर अरसे तक राज किया और थ्रिलर अब तक के सबसे ज्यादा बिकने वाले एलबमों में से एक है।1984 में थ्रिलर को 11 में से 8 ग्रेमी अवॉर्ड मिले और इसे 20 प्लेटिनम सर्टीफाइड किया गया है। इसी साल पेप्सी के एक विज्ञापन के दौरान हुई दुर्घटना में माइकल के सिर के बाल जल गए और उनकी खोपड़ी का कुछ भाग भी झुलस गया। 1987 तक माइकल को किंग ऑफ पॉप की उपाधि से नवाजा गया और उनके तीसरे एलबम 'बैड' को 4 बार प्लेटिनम सर्टीफिकेट मिला। इसमें माइकल के 5 सिंगल थे। टाइटल ट्रेक 'मैन इन द मिरर' और 'डर्टी डायना' जैसे नंबरों ने फिर से तहलका मचा दिया। 1990 में माइकल ने टैडी राइली के साथ अपना चौथा एलबल 'डेंजरस' निकाला, इस एलबम की 20 मिलियन कॉपी बिकीं। इसके 11 मिनट के म्यूजिक वीडियो 'ब्लैक ऑर व्हाइट' जब फॉक्स नेटवर्क पर दिखाया गया तो चैनल को सबसे ज्यादा नेल्सन रेटिंग मिली थी।

फरवरी 1993 में ऑपरा विंफ्री शो में माइकल ने अपनी त्वचा का रंग बदलने की वजह 'विल्टिगो' को बताया, उन्होंने यह भी स्वीकार किया की बचपन में वे अपने पिता से इतना डरते थे कि बीमार हो जाते थे। इसी साल नवम्बर में माइकल को अपने सिर की सर्जरी के दौरान पेनकिलर्स की आदत और सिर की शल्यक्रिया के लिए अपने वर्ल्ड टूर को स्थगित करना पड़ा। 1994 से इस सितारे को मानो किसी की नजर लग गई और एक बच्चे के परिवार ने उन पर सेक्सुअल अब्यूज का आरोप लगाया, जिसके एवज में माइकल ने उक्त परिवार को 20 मिलियन डॉलर की सेटलमेंट राशि दी। हाँलाकि उन पर कोई अपराधिक मामला दायर नहीं हुआ पर इस मामले ने उनकी छवि को गहरा धक्का पहुँचाया।

18 मई 1995 में किंग ऑफ पॉप ने रॉक के शहजादे एल्विस प्रेस्ली की बेटी लिसा प्रेस्ली से शादी कर ली। एमटीवी वीडियो म्यूजिक अवॉर्ड्स में इस जोड़ी के ऑनस्टेज किस ने बहुत सुर्खियाँ बटोरी। हालाँकि यह जोडी सिर्फ दो साल तक ही साथ रह पाई और 18 जून 1996 में माइकल और लिसा ने तलाक ले लिया। नवम्बर 15 को माइकल ने अपनी नर्स डेबी रो से विवाह किया, जिसने प्रिंस माइकल जैक्सन जूनियर (1997) तथा पेरिस माइकल केथरीन (3 अपैल 1998) को जन्म दिया। 1999 में माइकल और डेबी का तलाक हो गया मगर बच्चे माइकल के पास रहे। 2001 में माइकल को रॉक एंड रोल हॉल ऑफ फेम में सोलो आर्टिस्ट का खिताब मिला मगर उनका एलबम इंविंसिबल फ्लॉप साबित हुआ। 2002 में माइकल एक बार फिर आलोचना के घेरे में आ गए जब उन्होंने अपने दूसरे बेटे प्रिंस माइकल द्वितीय को बालकनी से बाहर लटका दिया।हालाँकि एक पत्रिका में दिए इंटरव्यू में उन्होंने इसे भयानक गलती माना। फरवरी 2003 में एक बार फिर माइकल की छवि को गहरा धक्का लगा, जब ब्रिटिश पत्रकार मार्टिन बशीर कृत डाक्यूमेंट्री 'लिविंग विथ माइकल जैक्सन' का टीवी पर प्रसारण हुआ, माइकल ने इसे खारिज करते हुए बयान दिया कि इसमें सेक्सुअल कुछ भी नहीं है।

नवम्बर 2003 में माइकल पर चाइल्ड अब्यूज के गंभीर आरोप लगे और उन्हें 2 दिनों की हिरासत में रहना पड़ा। उन पर एक 12 वर्षीय बच्चे ने यौन शोषण का आरोप लगा और केलिफोर्निया स्थित उनके रेंच नेवरलैंड पर सांता बारबरा शेरिफ डिपार्टमेंट और डिस्ट्रिक्ट एटार्नी ऑफिस ने तलाशी ली। 13 जून 2005 को ज्यूरी ने माइकल को सभी 10 अभियोगों से बरी कर दिया। इस फैसले से माइकल को बड़ी राहत पहुँची।

मार्च 2009 में माइकल ने घोषणा की कि वो कम से कम 10 बार लंदन के ओ2 एरीना में कंसर्ट करेंगे और यह उनका आखिरी कंसर्ट होगा। इसके पहले कि वो यह कंसर्ट कर पाते 25 जून 2009 को लॉस एंजिल्स स्थित अपने घर में दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया।माइकल जैक्सन आज हमारे बीच नहीं है पर उनकी यादें उनके गीतों के माध्यम से हमेशा इस दुनिया में रहेंगी।

Source: वेबदुनिया

---------------------------------------------------------------------------------------------------


सभी मैनपुरी वासीयों की आप को विनम्र श्रद्धांजलि |

1 टिप्पणी:

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter