सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

रविवार, 9 मई 2010

|| वन्दे मातरम ||



मेरी माँ -- अम्मा !!


मिलिए श्रीमति अनिला मिश्रा से --मेरी माँ से !! आज के दिन जब पूरी दुनिया में हर कोई अपनी माँ के लिए गीत कविता या कोई ना कोई छंद लिख या कह रहा है ..............मैं सिर्फ़ और सिर्फ़ यह कहना चाहता हूँ ..................
वन्दे मातरम !!

4 टिप्‍पणियां:

  1. मातृ-दिवस की बहुत-बहुत बधाई!
    ममतामयी माँ को प्रणाम!

    उत्तर देंहटाएं
  2. बिना भारी भरकम बात किए, एक्के लाईन में कह दिए आप... अम्मा के चरनों मे प्रनाम!!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत खुब लगा आप का यह आंदज, मां को नमन

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter