सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

रविवार, 12 सितंबर 2010

जय हो - सुशील ने कुश्ती में लिखा नया इतिहास

बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार ने रविवार को सफलता का एक और इतिहास रच दिया। उन्होंने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के खिताबी जंग में स्थानीय खिलाड़ी गोगाएव अलान को 3-1 से हराया। यह उपलब्धि हासिल करने वाले सुशील देश के पहले पहलवान है।
सुशील ने सेमीफाइनल में अजरबेजान के हासानोव जाबरायिल को 4-3 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया था। जबकि गोगाएव ने क्यूबा के गोरजोन काबालेरो को 4-0 से धूल चटाई थी। सुशील के कोच पद्मश्री द्रोणाचार्य पुरस्कृत महाबली सतपाल ने स्वर्ण पदक पर खुशी जाहिर करते हुए कहा, 'मैं बहुत खुश हूं कि राष्ट्रमंडल खेलों से पहले सुशील ने यह उपलब्धि हासिल की। अभी तक मेरा कोई भी शिष्य ऐसा कारनामा नहीं कर सका था, इसलिए मैं बहुत खुश हूं और इससे उसे राष्ट्रमंडल खेलों में काफी फायदा मिलेगा।'

हम सब की ओर से सुशील कुमार को बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएं ! 

7 टिप्‍पणियां:

  1. इस लुप्तप्राय खेल में देश का नाम रोशन करने वाले पहलवान को बधाई!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. हमारी तरफ़ से भी इस शेर को ( सुशील कुमार को) बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  3. मेरी ओर से भी सुशील कुमार को बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये तो हमारे देश के लिए गौरव का विषय है .... सुशील कुमार को बहुत बहुत बधाइयाँ ...

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter