सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

गुरुवार, 23 जनवरी 2014

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जी की ११७ वीं जयंती



 
"मृतक ने तुमसे कुछ नहीं लिया | वह अपने लिए कुछ नहीं चाहता था | उसने अपने को देश को समर्पित कर दिया और स्वयं विलुप्तता मे चला गया |"
- महाकाल 
"महाकाल" को ११७ वीं जयंती पर हम सब का सादर नमन ||

आज़ाद हिन्द ज़िंदाबाद ... नेता जी ज़िंदाबाद ||

जय हिन्द !!!

3 टिप्‍पणियां:

  1. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन नेताजी की ११७ वीं जयंती - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  2. आज़ाद हिन्द ज़िंदाबाद ... नेता जी ज़िंदाबाद .....
    जय हिन्द ........

    उत्तर देंहटाएं
  3. असली नेता, असली हीरो, असली देशभक्त!!
    आज तो सब नकली हैं!

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter