सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

शनिवार, 25 दिसंबर 2010

सभी पीने वाले ब्लॉगर मित्र ... ज़रा ध्यान दें !!

सभी पीने वाले ब्लॉगर मित्र ... ज़रा ध्यान दें !!

 क्या आप बुरे हैंगओवर के शिकार हैं..? 

टोस्ट के साथ हनी यानी शहद का इस्तेमाल करें। एक नए शोध में यह बात कही गई है। रॉयल सोसायटी ऑफ केमेस्ट्री ने यह तथ्य खोजने का दावा किया है।
उसने कहा है कि शहद में प्राकृतिक मिठास होती है, जो शराब पीने से होने वाले हैंगओवर को दूर करती है। शोध के अनुसार फलों में पाई जाने वाली शर्करा [फ्रक्टोस] शराब के शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले तत्वों को नष्ट करती है।
डेली टेलीग्राफ ने शोधकर्ताओं के दल का नेतृत्व करने वाले डॉ. जॉन एम्सले के हवाले से कहा है, 'शराब भले ही थोड़ी देर की खुशी देती हो, लेकिन उससे शरीर में पैदा होने वाला एसिटेल्डीहाइड हैंगओवर पैदा करता है। यह जहरीला रसायन सिरदर्द, जुकाम और यहां तक कि उल्टी के लिए भी जिम्मेदार है। जब इस रसायन का असर कम होता जाता है, तो हैंगओवर भी खत्म हो जाता है।'
एम्सले के अनुसार, 'टोस्ट के साथ हनी का सेवन करने से शरीर में पोटेशियम और सोडियम पहुंचता है और इससे शरीर में अल्कोहल के बुरे प्रभाव नष्ट होते हैं।'

वैसे इस पोस्ट की कोई जरूरत नहीं थी पर आजकल ठण्ड बहुत है ... और पता चला है लोग बाग़ ब्लॉगर और ब्लोगस को देख देख कर पीना सीख रहे है ... तो एक ब्लॉगर होने की हसियत से मेरा भी कुछ फ़र्ज़ बनता है कि नहीं ...???

14 टिप्‍पणियां:

  1. हा हा बताए देता हू बाक़ी लोगों को मै तो दूर हूं इस शाही शौक से

    उत्तर देंहटाएं
  2. देशनामा पर पीने पिलाने को लेकर
    और उसमें हिन्‍दी ब्‍लॉगिंग के परिप्रेक्ष्‍य में
    खूब विचार विमर्श और चिंता व्‍यक्‍त की चुकी है
    ऐसे में आपकी यह जानकारी
    आग के लिए घी ही मुहैया करायेगी
    घी जो महंगा है

    दो घूंट पिला ने साकिया, पर मज़ा तो यूं ही आ रहा है

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपके पोस्‍ट के हिसाब से शराब के दुष्‍प्रभाव से बचने के लिए शहद खाया जाए .. क्‍या एक बलॉगर की हैसियत से दूसरों को शराब पीना छोडने की सलाह नहीं दे सकते ??

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपकी जानकारी ब्लागर्स के लिए ही नहीं वरन आमजन के भी काम आएगी। लेकिन हमें तो कभी हैंगओवर का सामना नहीं करना पड़ा है।

    शहद का इस्तेमाल स्वास्थ्य रक्ष के लिए किया जा सकता है।

    उत्तर देंहटाएं
  5. फिर शराब की चर्चा ...गंदे बच्चे !
    शुभकामनायें :-))

    उत्तर देंहटाएं
  6. चलिये आप की कोई पोस्ट तो मेरे किसी काम की नहीं!!

    उत्तर देंहटाएं
  7. हम तो टोस्ट के संग खुब हनी खाते हे हनी के हाथ से, ओर पीते भी नही, तो यह क्यो नही कहते कि भाईयो, बहिनो पियो मत , पीना खराब नही बाल्कि पी कर भटकना बुरा हे, इस लिये उतनी पियो जितनी सह सकते हो खुद खुश रहो दुसरो को खुश रखो, बेहतर हे ना पियो...... लेकिन टोस्ट खुब खाओ हनी के संग सर्दी से बचो

    उत्तर देंहटाएं
  8. शिवम् जी आप एक नेक और फर्जवान ब्लॉगर हैं. आपके द्वारा दी गयी जानकारी से बहुतों का भला होगा. :))

    उत्तर देंहटाएं
  9. अपुन इससे वैसे ही दूर रहते हैं.....

    उत्तर देंहटाएं
  10. आपका कार्य प्रशंसनीय है, साधुवाद !

    हमारे ब्लॉग पर आजकल दिया जा रहा है
    बिन पेंदी का लोटा सम्मान ....आईयेगा जरूर
    पता है -
    http://mangalaayatan.blogspot.com/2010/12/blog-post_26.html

    उत्तर देंहटाएं
  11. अच्छी जानकारी ...
    लेकिन मेरे एक हैंगर मित्र ने बताया था कि शाम की खुमारी सुबह के पैग से ही उतरती है... पता नहीं ... अनुभव पढ़ाई से बेहतर होगा होगा :)

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter