सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

रविवार, 12 दिसंबर 2010

५५० वी पोस्ट :- सांसद हमले की ९ वी बरसी पर संसद हमले के अमर शहीदों को विनम्र श्रद्धांजलि


आज १३ दिसम्बर है ... ९ साल पहले आज के ही दिन कुछ लोगो ने भारत के लोकतंत्र के प्रतीक संसद भवन की रक्षा में अपने प्राणों की आहुति दी थी !


 ९ साल बाद आज यह संसद फिर हमले की शिकार है पर अब की बार अपने ही सदस्यों के हाथो !
 


संसद हमले के अमर शहीदों को पूरे हिंदी ब्लॉग जगत और सभी मैनपुरी वासीयों की ओर से शत शत नमन !

4 टिप्‍पणियां:

  1. इन कमीनो की सुरक्षा के लिये हमारे वीर जवानो ने अपने प्राण गवां दिये ओर यह सुयर रोजाना घाटोले पर घाटोले कर के उन के मकान डकार कर ऎश कर रहे हे, मेरे देश के उन शहीदो को उन वीरो को प्रणाम जो हमारे लिये अपनी जान लुटा देते हे, आप का धन्यवाद,

    उत्तर देंहटाएं
  2. इन लोगों ने तो उनकी रक्षा के लिए अपने जान की आहुति देने वालो को भी नहीं छोड़ा पेट्रोल पम्प देने का वादा किया और उसे लेने में शहीदों के घर वालो को बरसो पापड़ बेलने पड़े | शहीदों को नमन |

    उत्तर देंहटाएं
  3. भीषण दुर्गति अपने अंदर के आतंकवादियों के हाथ.. लगता ही उन शहीदों का खून व्यर्थ गया!!

    उत्तर देंहटाएं

  4. संसद की सुरक्षा के लिए प्राणों की आहुति देने वाले वीरो को मेरा सैल्युट, अगर ये न होते तो संसद को हाईजैक होने से कोई नहीं रोक सकता था।

    यहां पढिए आंखन देखी

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter