सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

शुक्रवार, 10 दिसंबर 2010

सर्दियों में सावधानी रखें, बीमारी से बचें

आम तौर पर सर्दियों के मौसम को स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। इसके बावजूद इस मौसम में बीमारियां होती है। कुछ सावधानियां बरत कर इनसे बचा जा सकता है :-

[सर्दी-जुकाम] : नाक बहना, गले में चुभन, खांसी और बुखार की समस्या इस मौसम में ज्यादा होती है। इनसे बचने के लिए ऊनी कपड़े पहनें। गले की खिचखिच से बचने के लिए गर्म पेय पदार्थ लें। हर्बल चाय, सूप और हल्का गुनगुना पानी इस दृष्टि से सर्वथा उपयोगी हैं।

[डायबिटीज] : इस मौसम में यह मर्ज अनियत्रित हो सकता है क्योंकि भूख अधिक लगती है। इस रोग को नियत्रित रखने के लिए ब्लड शुगर जाच कराएं।

[ब्लडप्रेशर व हृदय रोग] : सर्दियों में हाई ब्लडप्रेशर की शिकायत कुछ ज्यादा होती है क्योंकि सर्दियों में धमनिया सिकुड़ती है और कैलोरी की खपत कम होती है। अपने ब्लड प्रेशर, ईसीजी की जाच अवश्य कराएं।

[अर्थराइटिस] : इस मर्ज के पीड़ितों को इस मौसम में जोड़ों में दर्द बढ़ जाता है और सूजन हो जाती है। इससे बचने के लिए योग व व्यायाम करें। सुबह सैर करें। फिजियोथेरैपिस्ट की सलाह से जोड़ों से सबधित कुछ विशेष प्रकार की कसरत करें।

[स्किन एलर्जी] : इस मौसम में इसकी शिकायत सबसे अधिक होती है। त्वचा के रूखे होने से त्वचा पर सक्रमण हो सकता है। इससे बचने के लिए मेडीकेटेड साबुन का इस्तेमाल करें। सरसों के तेल से मालिश करें।

10 टिप्‍पणियां:

  1. जो मौसम जितना प्यारा होता है उसका असर कभी कभी उतना ही डरावना होता है.. जाड़े की इन बीमारियों से सावधानी रखनी ही चाहिये! अच्छी सलाह!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढ़िया जानकारी दी है शिवम् जी ....इस मौसम में सजग रहना जरुरी है ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. थैंक्स शिवम् !
    यह डाक्टरी बहुतों के काम आएगी बस डाक्टर लोग नाराज हो जायेंगे ! शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  4. यहाँ मुंबई में तो सर्दी नहीं पड़ती पर मुझे लगता है की दिसंबर में यहाँ भी सर्दी जुकाम से पीडितो की संख्या अच्छी खासी होती है | ऊनी कपडे तो नहीं पहन सकते पर बाकि उपाए आजमाए जा सकते है, धन्यवाद |

    उत्तर देंहटाएं
  5. हमारे यहां तो -२५ तक जाता हे टेमप्रेचर जी, इस लिये हमे इस से भी ज्यादा देख भाल करनी पडती हे, धन्यवाद नेक सलाह के लिये

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत ही काम की जानकारी दी आपने शिवम भाई । आभार

    उत्तर देंहटाएं
  7. जानकारी बढ़िया है ! पर क्या करें, यहाँ तापमान - 10 से - 30 तक रहता है और कभी कभी - 40 से नीचे चला जाता है ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. सरसों के तेल से मालिश करें.

    सभी मशविरे बढ़िया है ख़ास तौर पे ये वाला जिसकी अहमियत लोग भूलते जा रहे हैं..

    उत्तर देंहटाएं
  9. ओह तो यहाँ स्वास्थ सलाह भी मिलती है...बहुत अच्छा भैया :)
    वैसे जारे का मौसम हसीन होता है :)

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter