सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

रविवार, 10 मई 2009

मैनपुरी का सितारा -- हिर्देश सिंह |


वैसे तो कहेते है कि लोगो के सामने उनकी तारीफ नहीं की जाती पर कुछ लोग इस का अपवाद बन जाते है |
उनमे से ही एक है श्री हिर्देश सिंह , चीफ एडिटर सत्यम न्यूज़ चैनल मैनपुरी |

मैनपुरी के मेदेपुर गाँव में जन्मे पले बड़े हिर्देश ने किताबी ज्ञान मैनपुरी,आगरा,गाजियाबाद और दिल्ली में लिया |
दुनियादारी की समझ हुई तो बी की पढाई के साथ ही दैनिक जागरण मैं ५०० रुपये में नौकरी की जबकि इनका पूरा परिवार प्रसाशनिक सेवा में है | घर मैं बड़े भाई और पुरा परिवार के प्रसाशनिक सेवा मैं होने के बाद भी इन्होने प्रसासनिक सेवा की तेयारी करने की बजाये पत्रकारिता करने की ठानी और बरस २००४-५ मैं भारतीय जन संचार संसथान नई दिल्ली से डिग्री ली| कुछ समय डीडी न्यूज़ में भी काम किया | देहरादून में अमर उजाला में सब-एडिटर बन काम किया,फ़िर बी जी फिल्म्स,न्यूज़ २४ आदि चैनल्स में भी अनुभव लेते रहे | इन सब के बावजूद हमेशा ही इनको यह लगता रहा कि मेरा असली काम इन जगहों पर नहीं परन्तु कही और है ...........
.............पर कहाँ ????????
बहुत सोचने पर जवाब मिला मैनपुरी !!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!

जिसको भी बताया उसीने मजाक उडाया | पर किसी ने ठीक ही कहा है कि "रौशनी गर खुदा को हो मंज़ूर , आंधियो में चिराग जलते है ||"

आप मैनपुरी वापस आ गए|

मैनपुरी की जनता को जागरूक बनाने के मकसद से सत्यम न्यूज़ चैनल की शुरुआत की। शुरूआती मुश्किलात के बाद आज हिर्देश और उनका सत्यम न्यूज़ चैनल दिन रात उन्नति के पथ पर बड़ा जा रहा है |

मैनपुरी जैसे पिछडे जनपद मैं पत्रकारिता के जरिये लोगों को आवाज़ बलन्द करने के लिए नेशनल जोय्तिबा फूले फेलोशिप अवार्ड मिला साथ - साथ बेस्ट जर्नलिस्ट ऑफ़ दा इयर और बेस्ट यंग जर्नलिस्ट अवार्ड भी मिले| मैनपुरी का नाम पुरे विश्व मैं रोशन हो यही उनका मकसद है ||

हम सब की शुभकामनाये उनके और उनके सत्यम न्यूज़ चैनल के साथ है||

अनंता मैगजीन में छापा उनका एक इंटरव्यू यहाँ पेश है ताकि आप सब भी मैनपुरी के इस सितारे के विचार जान सके |

धन्यवाद |

6 टिप्‍पणियां:

  1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. दोस्त,तारीफ और इतना कुछ लिखने के लिए दिल से धन्यबाद.हालाकिं मैं इस लायक नहीं हूँ.आप जिस काम को लेकर तारीफ कर रहे हैं दरअसल मेरा फ़र्ज़ है.मैं कोई नया काम नहीं कर रहा हूँ.में मैनपुरी मैं पैदा हुआ हूँ.ये मुझे जान से भी प्यारी है.और ये दुया करियेगा हर जन्म में मैनपुरी की ज़मीन मुझे नसीब हों.हर इन्सान अगर इस मैनपुरी को बेहतर बनाने की ठान ले तो दोस्त मैनपुरी से हसीन शहर कोई होई नहीं सकता.वाकी आपको एक बार फिर से दिल से शुक्रिया ....

    उत्तर देंहटाएं
  3. आप क्या चीज़ हो यह आप खुद भी नहीं जानते |

    आप के लिए ही शायद कहा गया होगा कि
    " कौन कहेता आसमा में छेद नहीं हो सकता ??,
    ज़रा तबियत से एक पत्थर तो उछाल यारा ||"

    Keep the good work going.

    उत्तर देंहटाएं
  4. शिवम् जी आपने हिर्देश जी के बारे में सही लिखा.मैनपुरी में हिर्देश जी जैसे ही युवाओं के जरुरत है.मैंने उन्हें कई प्रोग्रामों में देखा है.उनके चहरे से कभी घमंड नहीं दीखता.इस उम्र पे उनकी सादगी और इंटेलीजेंसी किसी को भी प्रभावित करने का दम रखती है.मैनपुरी का जब भी इतिहास लिखा जायेगा तो इनका नाम भी जरुर लिया जायेगा.बधाई शिवम् जी
    विकास शाक्य कुरावली

    उत्तर देंहटाएं
  5. That s wonderful to know about Hirdesh alias jony....no doubt he did a admirable job in last few years in Mainpuri for mainpuri.my best wishesh with him for bright and sparkle fututre.....simply i would like to say for him,
    KEEP IT UP.

    उत्तर देंहटाएं
  6. मैनपुरी की जनता को जागरूक बनाने के मकसद से सत्यम न्यूज़ चैनल की शुरुआत के लिए श्री हिर्देश और उनका सत्यम न्यूज़ चैनल को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं मैं भी चूंकि मैनपुरी का ही रहने वाला हूँ अतः श्री हिर्देश जी के लेख अक्सर पढता रहता हूँ! मेरी कामना है की सत्यम न्यूज़ चैनल दिन रात उन्नति के पथ पर अग्रसर हो! देवेन्द्र सिंह चौहान

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter