सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

रविवार, 10 जुलाई 2011

रेलवे ने लांच की एम-टिकट सुविधा

रेलवे की ई-टिकट सुविधा मुसाफिरों को आरक्षण काउंटरों की लंबी लाइनों से पहले ही मुक्ति दिला चुकी है। अब आपको सफर के दौरान ई-टिकट का प्रिंट-आउट लेकर भी नहीं चलना पड़ेगा। यात्री अपना ई-टिकट मोबाइल पर ही एसएमएस के जरिये प्राप्त कर सकते हैं। रेलवे की इस नई सुविधा को 'एम-टिकट' नाम दिया गया है।
मोबाइल फोन आधारित यह टिकट बुकिंग प्रणाली यात्री को मोबाइल के जरिये टिकट बुक कराने और एसएमएस के जरिये अपने फोन पर ही टिकट प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करती है। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को कोलकाता में कहा, 'मुसाफिरों को अब अपने टिकट का प्रिंट आउट लेकर चलने की जरूरत नहीं है। टिकट मांगे जाने पर उन्हें सिर्फ एसएमएस दिखाना होगा।' पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और पूर्व रेल मंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कोलकाता में यह सुविधा लांच की।
अधिकारी ने बताया कि इंटरनेट के जरिये भारतीय रेलवे की नई वेबसाइट से इस मोबाइल टिकटिंग एप्लीकेशन को अपने मोबाइल पर डाउनलोड किया जा सकता है। रेलवे ने अपनी वेबसाइट 'डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट इंडियनरेलवेज डॉट जीओवी डॉट इन' को नए कलेवर में पेश कर यात्रियों को तमाम सेवाएं व सूचनाएं एक ही जगह पर उपलब्ध कराने की कोशिश की है। अब उक्त वेबसाइट से ई-टिकट भी बुक कराया जा सकेगा। अभी तक रेल ई-टिकट सिर्फ इंडियन रेलवेज कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन [आइआरसीटीसी] की वेबसाइट से ही बुक कराया जा सकता था। रेलवे की वेबसाइट पर ई-टिकट बुक कराने की सुविधा प्रतिदिन देर रात 12.30 से रात 11.30 बजे तक उपलब्ध रहेगी।

शुभ यात्रा कार्ड से किराए पर छूट

नियमित यात्रियों को बेहतर सुविधा प्रदान करने के लिए आइआरसीटीसी ने शुभ यात्रा कार्ड लांच किया है। इस सुविधा के तहत नामांकन कराने वाले यात्रियों को उनके द्वारा जुटाए गए अंकों के आधार पर किराए में छूट मिलेगी। हर यात्रा पर कुछ अंक मिलेंगे। इसका सदस्यता शुल्क पांच सौ रुपये सालाना है।

11 टिप्‍पणियां:

  1. देखें कितना सफल होती है यह योजना..

    उत्तर देंहटाएं
  2. एक नई शुरुआत ... चलो अब आई टी वालों को नया काम मिलेगा इसके तोड़ निकाने का ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. फ़्लाईट वालो ने यह सुविधा पहले ही निकाल रखी थी। अब रेल्वे द्वारा यह सुविधा प्रदान करने से यात्रा करने में सहुलियत होगी।

    अच्छी जानकारी के लिए आभार

    उत्तर देंहटाएं
  4. यह अच्छी खबर है...शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  5. यह बहुत ही क्रांतिकारी क़दम है। कई बार प्रिंटर की सुविधा नहीं रहने के कारण बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता था।

    उत्तर देंहटाएं
  6. काबिले तारीफ सुविधा। अब ट्राई करना पडेगा।

    ------
    TOP HINDI BLOGS !

    उत्तर देंहटाएं
  7. काहे की अच्छी खबर जरा नेट से टिकट बुक करके तो दिखाइये सीजन में तब कोई फायदा हो सारा रेलवे दलालों के हाथ बिका पड़ा है टिकट के लिए तीन महीने पहले से मरा मारी शुरू हो जाता है |

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter