सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

मंगलवार, 13 अप्रैल 2010

कैमियो रोल में वी.के. सिंह


फिल्म का दृश्य कुछ यूं है, कुछ आतंकवादियों ने स्कूली बच्चों की एक बस को बंधक बना लिया है। उस स्थान से कुछ दूरी पर स्थित कमांडो ट्रेनिंग कैम्प में सेना के अधिकारी बंधक बच्चों को छुड़ाने के लिए योजना बना रहे हैं। एक ब्रिगेडियर अपने अधिकारी मेजर चौहान को मिशन के लिए ताकीद करते हुए कहते हैं कि हमारे पास इलाके की कुछ स्लाइड्स हैं, जिन्हें एक्सप्लेन करेंगे कनर्ल वी.के. सिंह। मेजर चौहान की भूमिका में नाना पाटेकर हैं। इसके बाद कुछ क्षणों के लिए वी.के. सिंह दृश्य में आते हैं। यद्यपि उनके कोई डायलॉग नहीं हैं। उनकी एक झलक ही दर्शकों को मिलती है। फिल्म के दृश्य में नजर आने वाले कर्नल वी.के. सिंह हमारे नए सेनाध्यक्ष है। यहां जिस फिल्म के दृश्य का जिक्र है, वह है प्रहार।

यह बात दो दशक पहले की है। दरअसल करीब 20 साल पहले 1990 में वी.के. सिंह बेलगाम स्थित भारतीय सेना के कमांडो ट्रेनिंग सेंटर में इंस्ट्रक्टर थे। वी.के. सिंह के अनुसार ''उस कमांडो ट्रेनिंग सेंटर में प्रहार फिल्म की शूटिंग की जा रही थी। फिल्म के निर्देशक नाना पाटेकर उस दृश्य में वास्तविकता जोड़ने के लिए किसी सेना अधिकारी की मौजूदगी दर्शाना चाहते थे।'' गौरतलब है कि वी.के. सिंह सेनाध्यक्ष बनने वाले पहले कमांडो हैं।


हम सब की ओर से सिंह साहब कों बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएं !

4 टिप्‍पणियां:

  1. अरे वाह शिवम भाई वापसी का स्वागत है जी ..बहुत बहुत शुभकामनाएं । और हां ये जानकारी तो वाकई अदभुत है कमाल की ..कहीं भी सुना पढा देखा नहीं था इससे पहले । स्वागतम आपका

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत ही बढ़िया और महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई! उम्दा पोस्ट!

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter