सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

शनिवार, 5 सितंबर 2009

विदेशी बाजारों के रुख से गिरा शेयर बाजार


प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स में शुक्रवार को 290 अंकों की वृद्धि के बावजूद विदेशी बाजारों से उत्साहजानक रुख के आभाव में सप्ताह के दौरान देश के शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गई। सप्ताह के आंरभ में चीनी शेयर बाजार में 6.74 प्रतिशत की गिरावट ने निवेशकों के रुख को प्रभावित किया।

बंबई स्टाक एक्सचेंज [बीएसई] का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक 'सेंसेक्स' 233.22 अंक [1.46 प्रतिशत] की गिरावट के साथ साप्ताहिक कारोबार के अंत में 15,689.12 पर बंद हुआ। नेशनल स्टाक एक्सचेंज [एनएसई] का 50 शेयरों पर आधारित सूचकांक 'निफ्टी' 1.1 प्रतिशत की गिरावट के साथ सप्ताह के अंत में 4,680.4 पर बंद हुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मालकैप सूचकांकों में अधिक गिरावट नहीं दर्ज की गई। मिडकैप सूचकांक 0.52 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुआ। स्मालकैप सूचकांक में 0.43 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।

बाजार नियामक संस्था भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड [सेबी] के आंकड़ों के अनुसार इस सप्ताह विदेशी कोषों ने 3.9 करोड़ डालर मूल्य के शेयरों की खरीद की।

सोमवार को सेंसेक्स 255.7 अंकों [1.61 प्रतिशत] की गिरावट के साथ 15,666.64 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 1.48 प्रतिशत की गिरावट के साथ 4,662.1 पर बंद हुआ। मंगलवार को भी बिकवाली जारी रही और सेंसेक्स 115.45 अंकों या 0.74 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,551.19 पर बंद हुआ। निफ्टी 0.79 प्रतिशत की गिरावट के बाद 4,625.35 पर बंद हुआ।

बुधवार को सेंसेक्स में 83.73 अंकों या 0.54 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई और यह 15,467.46 पर बंद हुआ। निफ्टी 0.37 प्रतिशत की गिरावट के बाद 4,608.35 पर बंद हुआ। गुरुवार को लगातार चौथे दिन शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गई। सेंसेक्स 69 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ। निफ्टी 0.32 प्रतिशत की गिरावट के साथ 4,593.55 पर बंद हुआ।

शुक्रवार को सेंसेक्स 290.79 अंकों या 1.89 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 15,689.12 पर बंद हुआ। निफ्टी 1.86 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 4,679.2 पर बंद हुआ।

सेंसेक्स में सप्ताह के दौरान सबसे अधिक तेजी मारुति सुजुकी [8.8 प्रतिशत], हीरो होंडा [6.9 प्रतिशत], हिंदुस्तान यूनीलीवर [4.9 प्रतिशत], रिलायंस कैपिटल [3.7 प्रतिशत] और टाटा मोटर्स [3.6 प्रतिशत] के शेयर मूल्यों में दर्ज की गई।

जिन कंपनियों के शेयर मूल्यों में सबसे अधिक गिरावट दर्ज की गई उनमें भारती एयरटेल [6.9 प्रतिशत], भेल [5.1 प्रतिशत], रिलायंस इंडस्ट्रीज [4.5 प्रतिशत], रेनबैक्सी लैब [3.8 प्रतिशत] और टाटा पावर [3.7 प्रतिशत] शामिल है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter