सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

सोमवार, 31 अगस्त 2009

नेहरू कप पर फ़िर भारत का कब्ज़ा - पेनाल्टी शूट आउट में सीरिया को 6-5 से हराया





गोलकीपर सुब्रतो पाल के तीन बेहतरीन गोल बचाने की बदौलत पेनाल्टी शूट आउट तक खींचे खिताबी मुकाबले में गत चैंपियन भारतीय टीम ने नेहरू कप पर फिर से कब्जा जमा लिया। भारत ने पेनाल्टी शूट आउट में सीरिया को 6-5 से हराया। अतिरिक्त समय के बाद मेजबान टीम मजबूत प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ 1-1 से बराबरी पर थी।

हजारों दर्शकों के बीच फाइनल मुकाबला बहुत ही जोरदार रहा। लगातार तीसरे खिताब की कवायद में जुटी भारतीय टीम ने सोमवार को फाइनल में 95वें रैंकिंग वाली टीम सीरिया को कड़ी चुनौती दी। अतिरिक्त समय के दूसरे हाफ में रेनेडी सिंह ने मैच का पहला गोल दागा। लेकिन मैच खत्म होने से दो मिनट पहले सीरियाई खिलाड़ी अली दयाब ने बराबरी का गोल दागते हुए मुकाबले को पेनाल्टी शूट आउट में पहुंचा दिया।

दोनों टीमों ने आक्रामक खेल दिखाया। लेकिन निर्धारित समय तक कोई भी टीम गोल कर पाने में नाकाम रही। हालांकि भारतीय कप्तान बाइचुंग भूटिया और सुनील छेत्री ने गोल करने के कुछ मौके गंवाए। भूटिया पीला कार्ड पाने वाले दोनों टीमों से एकमात्र खिलाड़ी रहे। फिल्म स्टार सलमान खान भी इस खिताबी भिड़ंत देखने स्टेडियम पहुंचे।

पूरे प्रतियोगिता के दौरान शानदार प्रदर्शन के लिए कप्तान बाईचुंग भूटिया को टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया। अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ [एआईएफएफ] के कार्यवाहक अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने बालीवुड स्टार सलमान खान को एआईएफएफ का ब्रांड अंबेसडर बनाने की घोषणा की। भूटिया के नेतृत्व में भारत ने 2007 में नेहरू कप खिताब जीता था। भारत ने सीरिया को 1-0 से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया था। विजयी गोल एनपी प्रदीप ने किया था।

मैनपुरी के सभी खेल प्रेमियों की ओर से भारतीय फुटबॉल टीम को इस विजय पर बहुत बहुत शुभकामनाये |

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter