सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

रविवार, 26 जुलाई 2009

विजय दिवस पर दूरदर्शन की खानापूर्ति


जब पूरा देश आज विजय दिवस के मौके पर सभी अमर शहीदों के प्रति अपनी श्रद्धांजलि दे रहा है एसे में दूरदर्शन ने यह भी जरूरी नहीं समझा की दार्स सेक्टर में हो रहे विजय दिवस समारोह को प्रसारित किया जाए वोह तो भला हो स्टार न्यूज़ वालो का कि कम से कम उनकी बदोलत जनरल मालिक को कारगिल मेमोरियल पर सलामी देते हम देख सके | समझ नहीं आता जब प्राइवेट न्यूज़ एजेन्सी वाले वहाँ तक पहुच गए तो दूरदर्शन को क्या हुआ ?
वैसे इसमे पूरी गलती सरकार की है आज किसी भी नेता की पुण्य तिथि होती तो हम लोग उसका सीधा प्रसारण देख रहे होते पर क्यों की बात सुरक्षा बलों की है, इस लिए जाने दो यार उनका तो काम ही है देश के लिए मरना, कौन सी नई बात है ? हाँ अगर कोई नेता मर जाए वोह भी देश के लिए तो यह जरूर नई बात होगी उसका प्रसारण करना बहुत जरूरी होगा | एसे में दिल येही दुआ करता है कि भगवान् इन नेताओ को उठा ले |
बोलो आमीन |

1 टिप्पणी:

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter