सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

गुरुवार, 16 जुलाई 2009

उठापटक के बीच फ्लैट रहा बाजार


भारी उठापटक के बीच दलाल स्ट्रीट में आखिरी आधे घंटे के दौरान चली मुनाफावसूली से सेंसेक्स की शुरुआती तेजी गायब हो गई। इसके चलते बंबई स्टाक एक्सचेंज [बीएसई] का यह सूचकांक गुरुवार को 2.99 अंक की मामूली गिरावट के साथ 14250.25 पर बंद हुआ। एक दिन पहले यह 14253.24 अंक पर बंद हुआ था। बीते दो दिनों में सेंसेक्स ने करीब 853 अंकों की शानदार बढ़त दर्ज की थी। इसी प्रकार नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 2.10 अंक टूटकर 4231.40 पर बंद हुआ। बुधवार को यह 4233.50 अंक पर था।

यूरोपीय बाजारों में कमजोर रुझान देख सटोरिए ऊंचे स्तर पर मुनाफावसूली में जुट गए। इससे दलाल स्ट्रीट में दो दिनों बाद मंदड़ियों को भी मांद से निकलने का मौका मिल गया। महंगाई दर में मामूली बढ़त का भी बाजार पर नकारात्मक असर पड़ा। जुलाई के शुरुआती दो सप्ताहों में भारी बिकवाली करने वाले विदेशी संस्थागत निवेशक गुरुवार को लिवाल रहे।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स तेजी के साथ 14351.97 अंक पर खुला और कुछ ही मिनट में 14493.10 पर पहुंच गया, जो सत्र का उच्चतम स्तर रहा। यह नीचे में 14169.58 अंक तक गया। बीएसई के रीयल एस्टेट, पावर, मेटल, कैपिटल गुड्स व बैंकिंग कंपनियों से जुड़े सूचकांकों में गिरावट दर्ज की गई। वहीं आटो, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स व आयल एंड गैस सूचकांक तेजी पर रहे। मिडकैप व स्मालकैप सूचकांक हल्की बढ़त पर रहे। सेंसेक्स की 30 कंपनियों में 14 के शेयर ऊपर चढ़े, जबकि 16 को नुकसान हुआ। इस दिन बीएसई का कारोबार बढ़कर 6573.37 करोड़ रुपये हो गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter