सदस्य

नयी पोस्ट की जानकारी लें ईमेल से

 

बुधवार, 1 अप्रैल 2009

और चतुर्भुज नाथ गायब हो गए !!!!


राम नवमी को पूरा एक साल हो जायगा जब चतुर्भुज नाथ के पहली वार दर्शन हुये थे |
होते भी केसे वह मैनपुरी नरेश के आराद्य जो थे वह तो किले मे ही रहते थे , पहले राजा
पूजते थे उनके वाद ताले मे रहते थे | कभी फिर पूजा हुई या नही चतुर्भज नाथ ही जाने |
बिगत वर्ष राम नवमी पर राजा जी के राम मंदिर गये तो देखा एक श्याम वर्ण की
आकर्षक प्रतिमा और मूर्तियों के साथ रखी है| पूछने पर पता चला की यह राजा साहब
दुआर पूजित चतुर्भुज नाथ की प्रतिमा है , किले से मन्दिर मे लाकर रखी गयी है|
क्या पता था वह पहले और आखरी दर्शन होगे ? दो तीन माह बाद पता चला की एक दिन
चतुर्भुज नाथ का विग्रह मन्दिर से गायब है !! जो आज तक गायव है लोगो द्वारा पुजारी
से पूछने उसने बताया की विग्रह नहलाते समय था ,बाद मे गायब हो गया | किला प्रसाशको
बाद मे पुलिस को भी बताया , लेकिन कुछ नही होना था तो नही हुआ | जेसी चतुर्भज नाथ की
मर्जी !! लगता है बाहर ही जाना था, इसी लिये किले से बाहर आये
थे !!

2 टिप्‍पणियां:

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

ब्लॉग आर्काइव

Twitter